क्रेडिट कार्ड पेमेंट का बदलने वाला है तरीका

Rule Change: 1 जुलाई से लागू होगा बड़ा बदलाव… Credit Card से भरते हैं बिल, तो हो जाएं अलर्ट!

अगर आप भी क्रेडिट कार्ड (Credit Card) का इस्तेमाल करते हैं, तो फिर ये खबर आपके लिए खास है. दरअसल, सात दिन बाद यानी 1 जुलाई 2024 से क्रेडिट कार्ड पेमेंट से जुड़े बदलाव लागू हो जा रहे हैं. इसके बाद कुछ पेमेंट प्लेटफॉर्म के जरिये बिल पेमेंट में परेशानी पेश आ सकती है. इन प्लेटफॉर्म्स में क्रेड (CRED), फोनपे (PhonePe), बिलडेस्क (BillDesk) जैसे कुछ फिनटेक शामिल हैं. आइए जानते हैं कि भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने ऐसा क्या बदलाव किया है और इससे यूजर्स के ऊपर क्या असर पड़ने वाला है? 

जुलाई की पहली तारीख से लागू होगा नियम
जून का महीना खत्म होने वाला है और हफ्तेभर बाद जुलाई का महीना शुरू हो जाएगा. इस बीच हर महीने की तरह अगले महीने भी देश में कुछ बड़े बदलाव (Rule Change From 1st July)  होने जा रहे हैं और इनमें एक बड़ा चेंज क्रेडिट कार्ड से किए जाने वाले बिल पेमेंट्स से जुड़ा हुआ है. रिपोर्ट के मुताबिक, RBI के नए रेग्युलेशन के मुताबिक, एक जुलाई से सभी क्रेडिट कार्ड बिल पेमेंट भारत बिल पेमेंट सिस्टम यानी BBPS के जरिए किए जाने चाहिए. उसके बाद से सभी को भारत बिल पेमेंट सिस्टम (BBPS) के माध्यम से बिलिंग करनी होगी.

8 बैंकों ने किया पालन, कई बड़े Bank पिछड़े
केंद्रीय बैंक द्वारा तय की गई डेडलाइन के बाद भी अब तक कई ऐसे बड़े बैंक हैं, जिन्होंने नए बदलाव के तहत अपने रूल चेंज नहीं किए हैं और इनमें HDFC Bank-ICICI Bank और Axis Bank जैसे बड़े नाम शामिल हैं. ईटी की एक रिपोर्ट की मानें तो, आरबीआई के नए रेगुलेशन के मुताबिक करीब 8 बैंकों ने अपने कदम आगे बढ़ाए हैं, इनमें एसबीआई कार्ड (SBI Card), बैंक ऑफ बड़ौदा कार्ड (BoB Card), कोटक महिंद्रा बैंक (Kotak Mahindra Bank), फेडरल बैंक (Fedral Bank) और इंडसइंड बैंक (IndusInd Bank) शामिल हैं.

पेमेंट सिस्टम को और अधिक सुरक्षित करना लक्ष्य
भारतीय रिजर्व बैंक द्वारा ये नया रेग्युलेशन दरअसल, पेमेंट की प्रक्रिया को सुव्यवस्थित करना और भारत के पेमेंट सिस्टम को और सुरक्षित करने के उद्देश्य से लाया गया है. नेशनल पेमेंट्स कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया (NPCI) के साथ मिलकर BBPS ने अलग-अलग पेमेंट सर्विस के लिए एक ही प्लेटफॉर्म बनाने का लक्ष्य निर्धारित किया है. अब इसे लागू करने की डेडलाइन नजदीक आ रही है और अगर तय समय में बैंक इसका पालन नहीं करते हैं, तो उनके साथ-साथ Credit Card Payments पर निर्भर फिनटेक प्लेटफार्मों (Fintech) के लिए भी परेशानी का सबब बन सकता है. 

आखिर क्या है बीबीपीएस? 
यहां ये जान लेना बेहद जरूरी है कि आखिर ये BBPS यानी भारत बिल पेमेंट सिस्टम है क्या, तो बता हैं कि ये बिल पेमेंट का एक इंटीग्रेटेड सिस्टम है, जो ग्राहकों को ऑनलाइन बिल पेमेंट सर्विस मुहैया कराता है. यह एनपीसीआई की देख-रेख में काम करता है. भारत बिल-पे एक ऐसा इंटरफेस है, जो फोनपे, क्रेड समेत अन्य फिनटेक प्लेटफॉर्म्स पर मैजूद हैं और इसके माध्यम से अलग-अलग के बजाय एक ही प्लेटफॉर्म पर सभी तरह के क्रेडिट कार्ड बिल पेमेंट किए जा सकते हैं. 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *